एसजेवीएन ने 100 मेगावाट राघनेस्दा सौर परियोजना के लिए 612.71 करोड़ रूपए का अनुबंध हस्ताक्षरित किया

Spread the love
               Nand Lal CMD SJVNL

देहरादून, 15 सितम्बर (उ हि)। नन्द लाल शर्मा अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक एसजेवीएन ने आज अवगत करवाया कि कंपनी ने मैसर्स टाटा पावर सोलर सिस्टम्स लिमिटेड के साथ गुजरात के राघनेस्दा में 100 मेगावाट सौर विद्युत परियोजना के लिए इंजीनियरिंग प्रापण और निर्माण अनुबंध हस्ताक्षरित किया है। 612.71 करोड़ रुपए के इस अनुबंध में संयंत्र का तीन वर्ष के लिए व्यापक संचालन और रखरखाव सहित एसजेवीएन को कमीशन किए गए सोलर प्लांट की आरंभ से अंत तक की आपूर्ति शामिल है।

श्री नन्द लाल शर्मा ने आगे बताया कि एसजेवीएन ने गुजरात ऊर्जा विकास निगम लिमिटेड (जीयूवीएनएल) द्वारा आयोजित टैरिफ आधारित प्रतिस्पर्धी बोली के माध्यम से 2.64 रुपए प्रति यूनिट के टैरिफ पर इस परियोजना को हासिल किया था। इस परियोजना   को      वर्ष 2023 में कमीशन किया जाना है और 28.8% क्षमता उपयोग फैक्टर के साथ 252 मिलियन यूनिट का वार्षिक ऊर्जा उत्पादन करेगी। इस परियोजना से उत्पादित विद्युत को 25 वर्षों के लिए जीयूवीएनएल द्वारा खरीदा जाएगा जिसके लिए 03 जनवरी 2022 को पीपीए पर हस्ताक्षर किए गए हैं।

एसजेवीएन के कार्यकारी निदेशक (विद्युत अनुबंध), श्री सलिल शमशेरी और मेसर्स टाटा पावर सोलर सिस्टम्स लिमिटेड के प्रमुख (बिजनेस डवेल्पमेंट) श्री वेपुल जैन द्वारा अनुबंध समझौते पर हस्ताक्षर किए गए। इस अवसर पर एसजेवीएन और मेसर्स टाटा पावर सोलर सिस्टम्स लिमिटेड के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

वर्तमान में, नवीकरणीय परियोजनाओं के विकास पर मुख्य फोकस के साथ एसजेवीएन के पास लगभग 42,000 मेगावाट का पोर्टफोलियो है। एसजेवीएन ने हाल ही में राज्य में 10,000 मेगावाट सौर पार्क/ परियोजनाओं के विकास के लिए राजस्थान सरकार के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। इसके अलावा, एसजेवीएन ने पंजाब राज्य में 5000 मेगावाट की सौर परियोजनाओं को विकसित करने में भी गहन रुची व्यक्त की है। इन हाल ही की उपलब्धियों के साथ, एसजेवीएन वर्ष 2023 तक 5000 मेगावाट, 2030 तक 25000 मेगावाट और वर्ष 2040 तक 50000 मेगावाट स्थापित क्षमता के अपने साझा विजन को हासिल करने की ओर अग्रसर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!