राजकीय महाविद्यालय नरेंद्रनगर में आत्महत्यारोकथाम दिवस के अवसर पर कार्यशाला का आयोजन

Spread the love

नरेंद्रनगर, 11 September.राजकीय महाविद्यालय नरेंद्रनगर के मनोविज्ञान विभाग एवं सेमिनार एवं अकादमिक क्रियाकलाप समिति के संयुक्त तत्वावधान में आत्महत्यारोकथाम दिवस के अवसर पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में प्राचार्य प्रो0 राजेश कुमार उभान ने अपने संबोधन में कहा कि आत्महत्या एक अपराध है। सफल या असफल होना एक ही सिक्के के दो पहलू हैं। प्रयास करते रहने का माद्दा होना चाहिए परिवर्तन को स्वीकार करना सीखना चाहिए चाहे वह प्रतिकूल ही क्यों ना हो अपनी असफलता से हारना नहीं है बल्कि यह सफलता के लिए पहली सीढ़ी का काम करती है।

कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलन एवं सरस्वती वंदना के साथ की गई कार्यक्रम की संयोजिका डॉ सपना कश्यप द्वारा कार्यक्रम की विषय वस्तु क्रिएटिंग होप थ्रू एक्शन से परिचय करवाया गया डॉक्टर सपना कश्यप ने समाज में आत्महत्या की बढ़ती घटनाओं पर चिंता व्यक्त की और अवसाद आदि मनोवैज्ञानिक समस्याओं से निपटने के लिए सरकार द्वारा शुरू की गई मानसिक स्वास्थ्य हेल्पलाइन किरन का उल्लेख किया जिस पर कोई भी व्यक्ति बिना अपनी पहचान बताएं सप्ताह में 7 दिन चौबीसों घंटे उपलब्ध सेवा का उपयोग कर सकता है।

कार्यक्रम को अंतर क्रियात्मक बनाने के लिए संवेगात्मक गतिविधियों का क्रियान्वयन किया गया जिसमें सभी प्रतिभागियों का उत्साह देखने लायक था। गुब्बारें की गतिविधि द्वारा सोशल सपोर्ट की आवश्यकता पर प्रकाश डाला गया। वहीं relaxation गतिविधि द्वारा भागदौड़ भरी जिंदगी में दो पल के सुकून और ठहराव लाने का प्रयास किया गया। Count your blessing गतिविधि में अपने से प्यार करना जरूरी है बताया गया। karyshala mein मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता संबंधी प्रश्नोत्तरी का भी आयोजन छात्र-छात्राओं के लिए किया गया जिसमें आरती ने प्रथम सूरज खत्री ने द्वितीय व साहिल ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।
कार्यशाला के द्वितीय सत्र में बातें नामक लघुवृत्तचित्र का प्रदर्शन किया गया। इस फ़िल्म के माध्यम से आत्महत्या हल नहीं है के प्रति संवेदनशील करने का प्रयास किया गया।
उल्लेखनीय है कि क्विज प्रतियोगिता के विजेताओं को प्राचार्य द्वारा पुरस्कृत किया गया। प्राचार्य द्वारा कार्यक्रम के सफल संचालन हेतु आयोजन मंडल के सदस्यों को बधाई दी गयी। कार्यशाला के अंत में डॉ0 राकेश नौटियाल ने उपस्थित सभी का आभार व्यक्त किया। आयोजन समिति में डॉ0 सपना कश्यप, डॉ0 सृचना सचदेव, डॉ0 रश्मि उनियाल, डॉ0 हिमांशु जोशी और डॉ0 राकेश कुमार नौटियाल सम्मिलित रहे। कार्यशाला में सभी प्राध्यापक गण, शिक्षणेत्तर कर्मचारीगण व छात्र छात्राएं उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!