280 फिल्में, 79 देश, 9 दिन, एक इफ्फी, कोई बहाना नहीं!

Spread the love

The 53rd edition of IFFI, the International Film Festival of India is all set to open to a colourful opening ceremony at Dr Shyama Prasad Mukherjee Indoor Stadium, Taleigão, Goa. This edition of the festival presents to film delegates a potpourri of 280 films, inviting them to immerse themselves in the lives, aspirations and struggles of peoples from a total of 79 countries. With the festival preparations being in full swing, Festival Director and Managing Director, NFDC Ravinder Bhakar; CEO, ESG Swetika Sachan; Director General, PIB, Monideep Mukerjee; and Additional Director General, PIB, Pragya Paliwal Gaur addressed a curtain-raiser – or shall we say, curtain-flier – press conference in Old GMC Building, Panaji

भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव, इफ्फी का 53वां संस्करण, डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी इंडोर स्टेडियम, तलेगाओ, गोवा में रंगारंग उद्घाटन समारोह के लिए तैयार है। महोत्‍सव का यह संस्करण फिल्म प्रतिनिधियों के लिए 280 फिल्मों का एक गुलदस्‍ता प्रस्तुत कर रहा है, जो उन्हें 79 देशों के लोगों के जीवन, आकांक्षाओं और संघर्षों में खुद को लीन करने के लिए आमंत्रित कर रहा है। जोर-शोर से जारी महोत्‍सव की तैयारियों के बीच, महोत्सव निदेशक और प्रबंध निदेशक, एनएफडीसी रविंदर भाकर; सीईओ, ईएसजी स्‍वेतिका सचान;  महानिदेशक, पीआईबी, मोनीदीप मुखर्जी; और अपर महानिदेशक, पीआईबी, प्रज्ञा पालीवाल गौड़ ने आज पणजी की ओल्‍ड जीएमसी बिल्डिंग में कर्टेन-रेज़र – या कहें, कर्टन-फ़्लायर – संवाददाता सम्‍मेलन को संबोधित किया।

 

तो, आइए हाइलाइट्स पर नज़र डालते हैं:

महोत्सव का आरंभ डाइटर बर्नर द्वारा निर्देशित ऑस्ट्रियाई फिल्म, अल्मा एंड ऑस्कर  के प्रदर्शन से होगा। आरंभिक फिल्म के लिए रेड कार्पेट  दोपहर 2 बजे आईनॉक्स-आई, पणजी में शुरू होगा। इसके बाद फिल्म प्रदर्शित की जाएगी।

महोत्सव का समापन पोलिश फिल्म करज़िस्तोफ ज़ानुसीज़ परफेक्ट नंबर  के प्रदर्शन से होगा। समापन फिल्म के लिए रेड कार्पेट 28 नवंबर को दोपहर 2 बजे आईनॉक्स-आई, पणजी में शुरू होगा।  इसके बाद फिल्म प्रदर्शित की जाएगी।

मर्सिडीज ब्रायस मॉर्गन द्वारा जर्मनी, कनाडा और अमरीका में स्‍थापित 2022 की फिल्म फिक्सेशन  मिड-फेस्ट फिल्म होगी।

‘इंडियन पैनोरमा’ में भारत की 25 फीचर फिल्में और 19 गैर-फीचर फिल्में दिखाई जाएंगी, जबकि 183 फिल्में इंटरनेशनल प्रोग्रामिंग का हिस्सा होंगी।

52वें दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्‍मानित आशा पारेख के लिए महोत्‍सव के दौरान एक विशेष खंड प्रस्तुत किया जाएगा, जिसमें तीन फिल्मों- तीसरी मंजिल, दो बदन और कटी पतंग की स्क्रीनिंग की जाएगी।

मणिपुरी सिनेमा के 50 वर्ष पूरे होने के अवसर पर मणिपुर स्टेट फिल्म्स फिल्म डेवलपमेंट सोसाइटी द्वारा क्यूरेट की गई पांच फीचर और पांच गैर-फीचर फिल्मों के विशेष रूप से तैयार किए गए पैकेज को इंडियन पैनोरमा के अंतर्गत प्रदर्शित किया जाएगा।

पूर्वोत्तर भारत की फिल्मों को बढ़ावा देने की एक पहल के रूप में, मणिपुरी सिनेमा की स्वर्ण जयंती 5 फीचर और 5 गैर-फीचर फिल्मों के जरिए मनाई जाएगी।

महोत्‍सव के दौरान सर्वश्रेष्ठ विदेशी भाषा श्रेणी में ऑस्कर में भारत की आधिकारिक प्रविष्टि पान नलिन की चेलो शो- द लास्ट फिल्म शो और मधुर भंडारकर की इंडिया लॉकडाउन की विशेष स्क्रीनिंग होगी।

एनएफडीसी द्वारा ‘इंडियन रिस्टोर्ड क्लासिक्स’ खंड में भारतीय राष्ट्रीय फिल्म अभिलेखागार की फिल्मों को प्रदर्शित किया जाएगा। इनमें सोहराब मोदी की 1957 की कॉस्ट्यूम ड्रामा नौशेरवाने आदिल, रमेश महेश्वरी की 1969 की राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता पंजाबी फिल्म नानक नाम जहाज है, के विश्वनाथ की 1980 की तेलुगू म्‍यूजिकल ड्रामा शंकराभरणम और सत्यजीत रे की दो क्लासिक्स, 1977 की पीरियड ड्रामा शतरंज के खिलाड़ी  और 1989 की सामाजिक फिल्‍म गणशत्रु  का प्रदर्शन शामिल है।

सत्यजीत रे लाइफटाइम अचीवमेंट अर्वाड  स्पेनिश फिल्म निर्देशक कार्लोस सौरा को प्रदान किया जा रहा है। इस विख्‍यात फिल्म निर्माता की ओर से उनकी बेटी अन्ना सौरा उद्घाटन समारोह में यह पुरस्कार स्वीकार करेंगी। महोत्‍सव में उनकी कृतियों का रेट्रोस्पेक्टिव प्रदर्शित किया जाएगा।

‘स्पॉटलाइट’ देश फ्रांस है और कंट्री फोकस पैकेज के अंतर्गत 8 फिल्में दिखाई जाएंगी।

‘फिल्म बाजार’ में विभिन्न खंडों में कुछ बेहतरीन फिल्मों और फिल्म निर्माताओं को प्रदर्शित किया जाएगा। इफ्फी में पहली बार मार्शे डु कान जैसे प्रमुख अंतरराष्ट्रीय बाजारों की तर्ज पर पवेलियन होंगे। इस साल कुल 42 पवेलियन होंगे। इनमें विभिन्न राज्य सरकारों, प्रतिभागी देशों, उद्योग से जुड़े लोगों और मंत्रालय की  मीडिया इकाइयों के फिल्म कार्यालय होंगे। यह भी पहली बार होगा, जब अनेक रिस्‍टोर्ड क्लासिक्स ‘द व्यूइंग रूम’ में उपलब्ध होंगे, जहां कोई भी इन फिल्मों के अधिकार खरीद सकेगा और दुनिया भर के फिल्म समारोहों में उनका उपयोग कर सकेगा।

महोत्सव के निदेशक ने बताया कि ‘बुक्स टू बॉक्स ऑफिस’ नामक एक नया पुस्तक अनुकूलन कार्यक्रम शुरू किया गया है। यह कदम पुस्तकों में छपी अच्छी कहानियों और किताबों को अनुकूलित करके बनाई जा सकने वाली अच्छी फिल्मों के बीच की खाई को पाटने की पहल के रूप में उठाया जा रहा है। इसमें ऑन-स्क्रीन सामग्री में परिवर्तित की जा सकने वाली पुस्तकों के अधिकार बेचने के लिए कुछ बेहतरीन प्रकाशकों के  उपस्थित रहने की उम्मीद है।

गांवों के लोगों तक पहुंच कायम करने की पहल के रूप में पूरे गोवा में कारवां लगाए जाएंगे और फिल्मों की स्क्रीनिंग की जाएगी।

ओपन एयर बीच स्क्रीनिंग भी की जाएगी।

‘होमेज’ खंड में पंद्रह भारतीय और पांच अंतर्राष्ट्रीय फिल्में प्रदर्शित की जाएंगी

विशेष आकर्षण में 26 नवंबर को शिगमोत्सव (वसंत महोत्सव) और 27 नवंबर, 2022 को गोवा कार्निवल  शामिल होंगे।

सीबीसी की ओर से आजादी का अमृत महोत्सव की थीम पर प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा।

एफटीआईआई ऑटिज्म से पीड़ित व्यक्तियों के लिए स्मार्ट फोन फिल्म मेकिंग और व्हील चेयर का उपयोग करने वाले व्यक्तियों के लिए एक्टिंग कोर्स का संचालन करेगा।

इस दौरान हिंदी फिल्मों के कई गाला प्रीमियर होंगे, जिनमें  उनके कलाकार सिनेमा को समर्थन और बढ़ावा देने के लिए मौजूद रहेंगे। इनमें परेश रावल की द स्टोरीटेलर, अजय देवगन और तब्बू की दृश्यम 2, वरुण धवन और कृति सेनन की भेडि़या और यामी गौतम की लॉस्ट शामिल हैं। आने वाली तेलुगु फिल्म रेमो, दीप्ति नवल और कल्कि कोचलिन की गोल्डफिश और रणदीप हुड्डा और इलियाना डी’क्रूज की तेरा क्या होगा लवली का भी इफ्फी में प्रीमियर होगा। इसके साथ ही वधांधी, खाकी और फौदा सीजन 4 जैसे ओटीटी शो का  एपिसोड प्रदर्शित होगा।

महोत्सव के निदेशक ने सूचित किया कि प्रसारण एवं सूचना मंत्रालय की पहल ’75 क्रिएटिव माइंड्स ऑफ टुमॉरो’ का दूसरा संस्करण एक अन्य आकर्षण होगा। स्वतंत्रता के 75 वर्षों के प्रतीक के रूप में अनेक फिल्म निर्माताओं को सम्‍मानित किया जाएगा।

महोत्सव के निदेशक ने मीडिया को बताया कि 118 अंतर्राष्ट्रीय फिल्मी हस्तियों ने महोत्‍सव में उपस्थित रहने की पुष्टि की है, जिनमें करजिस्तोफ जानूसी, लव डियाज, नादव लापिड, जिन्को गोटोह, मैडी हैसन, जॉन लॉयड क्रूज़, जेनेसिस रोड्रिग्ज, मार्क ओसबोर्न, जियोन क्यू ह्वान, डैनियल गोल्डहैबर और नतालिया लोपेज़ गैलार्डो शामिल हैं। उन्होंने बताया कि 221 भारतीय फिल्मी हस्तियों ने महोत्‍सव में उपस्थित रहने की पुष्टि की है, जिनमें अजय देवगन, सुनील शेट्टी, वरुण धवन, कृति सेनन, प्रभुदेवा, मनोज बाजपेयी, नवाजुद्दीन सिद्दीकी, शेखर कपूर, राणा दग्गुबत्ती, मणिरत्नम, एआर रहमान, पंकज त्रिपाठी, परेश रावल, अक्षय खन्ना, कल्कि कोचलिन, यामी गौतम, दिनेश विजान, इलियाना डिक्रूज, आर बाल्की, अनुपम खेर और भूषण कुमार शामिल हैं। ।

उद्घाटन समारोह 20 नवंबर, 2022 को डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी इंडोर स्टेडियम, तलेगाओ, गोवा में आयोजित किया जाएगा। गाला रेड कार्पेट उद्घाटन समारोह शाम 4 बजे शुरू होगा, इसके बाद उद्घाटन समारोह शाम 5 बजे से रात 9 बजे तक आयोजित किया जाएगा। महोत्सव निदेशक ने बताया कि उद्घाटन समारोह के प्रसारण अधिकार एक मीडिया पार्टनर को दिए गए हैं, और सांस्कृतिक प्रदर्शन वाले मनोरंजन खंड को छोड़कर उद्घाटन समारोह का वीडियोग्राफिक कवरेज केवल लोक प्रसारक दूरदर्शन द्वारा किया जाएगा। मनोरंजन खंड का वीडियोग्राफिक कवरेज केवल मीडिया पार्टनर के लिए आरक्षित है; हालांकि, मनोरंजन खंड सहित समारोह के चुनिंदा वीडियो फुटेज उसी दिन मीडिया को उपलब्ध कराए जाएंगे। पूरे आयोजन के लिए स्टिल फोटोग्राफी की अनुमति होगी। इसके अलावा, मीडिया रेड कार्पेट की गतिविधियों को भी कवर कर सकता है।

इसी तरह, समापन समारोह 28 नवंबर, 2022 को डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी इंडोर स्टेडियम, तलेगाओ, गोवा में आयोजित किया जाएगा। गाला रेड कार्पेट शाम 4.00 बजे शुरू होगा, जिसके बाद शाम 4.45 बजे से शाम 7.00 बजे तक समापन समारोह का आयोजन होगा।

आप और अधिक विवरण चाहते हैं? महोत्‍सव के संबंध में पीआईबी की आगामी (और पिछली) सूचनाओं को देखने के लिए क्लिक करें – https://pib.gov.in/newsite/iffi53.aspx

सीईओ, ईएसजी स्वेतिका सचान ने मीडिया को बताया कि गोवा खंड में फिल्म प्रतिनिधियों के समक्ष 7 गैर-फीचर फिल्में प्रस्तुत की जा रही हैं। ये सात फिल्में हैं अर्दो डिस, बिफोर आई स्लीप, द व्हाइट शर्ट, विंड चाइम्स, द व्हाइट ड्रीम, गोय स्वातंत्र्यचे होमखान और निमन्या डिसक । कुल 10 प्रविष्टियों में से इन फिल्मों का चयन एक जूरी ने किया है, जिसमें फिल्म निर्माता विनोद गनात्रा; निर्माता, निर्देशक और लेखक इमो सिंह; और निर्माता एवं अभिनेता पामपल्ली संदीप कुमार शामिल हैं।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/25LQU.jpg

सीईओ ने महोत्‍सव के अन्य आकर्षणों के बारे में भी चर्चा की, आप इनका विवरण यहां देख सकते हैं।

अपर महानिदेशक, पीआईबी, प्रज्ञा पालीवाल गौड़ ने पीआईबी की ओर से  सार्वजनिक संचार और मीडिया सुविधा प्रबंधों के संबंध में बनाई गयी योजना के बारे में जानकारी दी। उन्‍होंने बताया कि मीडिया प्रत्‍यायन के लिए 500 से अधिक पत्रकारों ने आवेदन किया है और लगभग 420 आवेदनों को प्रॉसेस किया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि मीडिया प्रतिनिधि कार्ड का वितरण पहले ही शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा कि पीआईबी महोत्सव के विभिन्न पहलुओं के संबंध में फोटो और मल्टीमीडिया प्रेस विज्ञप्ति/इफ्फी क्रॉनिकल्स, अंग्रेजी, हिंदी, उर्दू और देश की अन्य क्षेत्रीय भाषाओं में लेकर आ रहा है। पीआईबी मीडिया कांफ्रेंस का आयोजन कर रहा है या जिसे हम फिल्म निर्माताओं और फिल्मी हस्तियों और मीडिया और महोत्सव के प्रतिनिधियों के बीच इफ्फी टेबल टॉक्‍स कहकर पुकार रहे हैं। इन सत्रों को पीआईबी इंडिया के यूट्यूब चैनल पर भी सीधे प्रसारित किया जाएगा। उन्‍होंने बताया कि महोत्‍सव के साथ लोगों के जुड़ाव, दिलचस्‍पी और भागीदारी में सुधार लाने के लिए पीआईबी सोशल मीडिया कम्‍युनिकेशन के साथ भी इन्हें जोड़ रहा है; जिसके लिए हम कम्‍युनिकेशन के रचनात्मक स्‍वरूपों जैसे मीम्स और कस्टम वीडियो का भी उपयोग कर रहे हैं। पीआईबी महोत्‍सव का ई-न्यूजलेटर इफिलॉयड भी जारी करेगा, जिसकी शुरुआत हमने इफ्फी के 52 वें संस्‍करण के साथ की थी।

कर्टन-फ्लायर प्रेस कॉन्फ्रेंस में क्या हुआ, क्या आप इस बारे में और जानकारी पाना चाहते हैं? इस कार्यक्रम को यहां देखें :

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!