स्कूल कालेजों में कई वर्षों से कार्यरत प्रभारी प्रधानाचार्यो को स्थायी करने की मांग

Spread the love

–थराली से हरेंद्र बिष्ट —

लंबे समय से पूरे उत्तराखंड के स्कूल कालेजों में कार्यरत सैकड़ों प्रभारी प्रधानाचार्यो ने उनके अनुभवों के आधार पर उन्हे उसी पड़ पर स्थायी करने की मांग की है। इस संबंध में संघ का एक प्रतिनिधिमंडल जल्दी ही सीएम,शिक्षा मंत्री एवं उच्चाधिकारी से भेंट करेगा।

प्रभारी प्रधानाचार्य संघ के प्रदेश संयोजक रमेश देवराड़ी ने यहां जारी एक बयान में कहा हैं कि लंबे समय से प्रदेश के सैकड़ों हाईस्कूलों एवं इंटर कालेजों में स्कूल, कालेजों के वरिष्ठ एवं अनुभवी शिक्षकों को बिना किसी अन्य आर्थिक लाभ दिए, प्रभारी प्रधानाचार्यो का अतिरिक्त जिम्मेदारी सौंपी गई हैं। सभी प्रभारी प्रधानाचार्य वर्षों से बखूबी निभा भी रहें हैं। ऐसी परिस्थिति में जबकि सरकार पूरे प्रदेश में सभी स्कूल कालेजों में स्थाई प्रधानाचार्यो को तैनाती के प्रयास में जुटी हुई हैं। ऐसे में लंबे समय से प्रभारी प्रधानाचार्यो की जिम्मेदारी संभाल रहे अनुभवी प्रधानाचार्यो को वरियता के आधार पर स्थाई किया जाना चाहिए ताकि कालेजों की प्रशासनिक व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरुस्त किया जा सकें। देवराड़ी ने बताया कि इस मांग को लेकर प्रभारी प्रधानाचार्य संघ का एक प्रतिनिधिमंडल शीघ्र ही मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी एवं शिक्षा मंत्री डॉ धन सिंह रावत के साथ ही शिक्षा विभाग के उच्चाधिकारियों से मुलाकात कर अपनी मांगों को रखेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!